Advertisements

बरसात से सब्जियों में 'उबाल'






Chandigarh, 26 Sep, 2018 NewsRoots18
उत्तर भारत में 3 दिन पड़ी बेमौसमी तेज बरसात ने सब्जी की फसलों को बर्बाद कर दिया है। इसके चलते सब्जियों के दामों में उबाल आ गया है। तमाम सब्जियों के दाम डेढ़ से दो गुणा तक पहुंच गए हैं। मटर का सेंसेक्स सर्वाधिक ₹180 प्रति किलो पर पहुंच गया है। हिमाचल प्रदेश, पंजाब और हरियाणा में बड़े पैमाने पर सब्जी की फसलें बर्बाद हुई हैं। इसके अलावा सडकें टूट जाने के कारण सप्लाई भी पूरी तरह से बाधित हो चुकी है।





लगातार 3 दिन तक चली भारी बरसात मे जबरदस्त तबाही मचाई है। सबसे ज्यादा असर सब्जी की फसलों पर देखने को मिल रहा है। हरियाणा, पंजाब और हिमाचल प्रदेश में बड़े पैमाने पर सब्जी की फसलें बर्बाद हो चुकी हैं। खेतों में ज्यादा पानी भरने के कारण सब्जी की फसलें खेतों में ही गलने लगी है और ना ही पानी के कारण किसान अपनी फसलों को निकाल कर मंजिल तक पहुंचा पा रहे हैं। हिमाचल प्रदेश में ज्यादातर सड़कें टूट चुकी है। इसके चलते रास्ते बाधित हो चुके हैं। लिहाजा ठंडे इलाकों से आने वाली बे मौसमी सब्जी की फसलें मंडियों में नहीं पहुंच रही हैं। इसके चलते सब्जी के दामों में डेढ़ से 2 गुना उछल आ गया है। हिमाचल प्रदेश से मटर की सप्लाई पूरी तरह से बंद हो चुकी है लिहाजा मंडी में मटर का रेट ₹180 किलो पहुंच गया है। इसके अलावा तमाम दूसरी सब्जियां डेढ़ से दोगुने रेट तक पहुंच गई है। इससे आम लोगों का बजट बिगड़ने लगा है। आने वाले दिनों में भी सब्जी के दामों में उछाल जारी रहेगा, क्योंकि ज्यादातर फसलें खेतों में बर्बाद हो चुकी हैं या फिर सप्लाई सुचारू नहीं हो पा रही है। चंडीगढ़ की सब्जी मंडियों में इसका असर साफ दिखाई दे रहा है।

सब्जियों के दाम

मटर-180
भिंडी-60
अरबी-60
टिंडा-70
शिमला मिर्च-70
गोभी-70
गाजर-50
घीया-50
तोरी-50
मूली-50
फ्राँसबीन-60
टमाटर-40
आलू- 30

Post a Comment

0 Comments