Advertisements

पूर्व आईएएस समेत अन्य पर यौनशोष जबरन घर में घुसने के मामले में आरोप तय





Panchkula, 17 Sep, 2018 NewsRoots18
पंचकूला जिला अदालत ने सीनियर फार्मासिस्ट महिला के साथ यौनशोषण और घर में जबरन घर घुसने के मामले में पूर्व आईएएस समेत अन्य पर आरोप तय कर दिये है। मामले में सीजेएम रोहित वाट्स ने पूर्व आईएएस युद्धवीर ख्यालिया, एसएमओ विजय दहिया, रिटायर्ड सुपरिटेंडेंट  स्वतंत्र गुपता, असिस्टेंट राजेश सैनी और माया रानी के खिलाफ धारा 341,452,500,120वी के तहत आरोप तय किये है।

सुप्रीम कोर्ट ने भी इस मामले में महिला के घर में जबरन नहीं घुस सकते कि  बात को मानते हुए ख्यालिया पर 25 हजार रुपए जुर्माना लगाया था। सुप्रीम कोर्ट ने सीजेएम पंचकूला कोर्ट में केस चलाने के आदेश दिये थे। लेकिन सीजेएम भावना जैन की कोर्ट ने सभी आरोपियों को क्लीन चिट दे दी थी।


पीड़िता के मुताबिक 26 सिंतबर 1997 को त्तकालीन एसडीएम कालका युद्धवीर ख्यालिया, जीएसपी राजश्री व अन्य पुलिस अधिकारी उसके एचएमटी स्थित आवास घुस और वीडियोग्राफी करवाई थी।

माया रानी नामक महिला ने  महिला फार्मासिस्ट के किसी शख्स के साथ अवैध संबंध होने के आरोप लगाए थे। वह शख्स रात को उसके घर भी आता है। रेड के दौरान महिला फार्मासिक्ट के घर एक पुरुथ था जिसके बाद दोनों को गिरफ्तार किया गया था हांलाकि बाद में दोनों को जमानत मिली गई थी।

महिला ने ख्यालिया व अन्य पर आरोप लागाय कि जबरन उसका मेडिकल पुरुष डॉक्टर से करवाया था और मेडिकल में कुछ भी हो लेकिन रिपोर्ट एसडीएम के कहने के मुताबिक लिखी गई। इसका महिला सीनियर फार्मासिस्ट ने विरोध किया था। इसके बाद महिला ने जबर्न घर में घुसने और यौन शोषण का केस दर्ज करवाया था। वहीं आरोप लगाने वाली महिला पर मानहानि का केस किया था।

मामले में अन्य आरोपियों पर आरोप इस लिए नहीं तय हो पाए क्योंकि उनकी अपील हाईकोर्ट में  विचाराधीन है।


Post a Comment

0 Comments