Advertisements

छात्राओं से छेड़छाड़ के विरोध में दलितों ने स्कूल में जड़ा ताला






Palwal, 17 Sep, 2018 NewsRoots18
हरियाणा के पलवल में छात्राओं के साथ छेड़खानी और पिटाई के विरोध में सोमवार को दलित समाज के लोगों ने गांव पिन्गोड के राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में ताला जड़ दिया। प्रदर्शनकारियों ने गांव के दबंग लोग और स्कूल के कुछ अध्यापकों पर आरोप लगाया है। ग्रामिणों ने पुलिस पर शिकायत के बावजूद एफआईआर दर्ज नहीं करने और मेडिकल जांच नहीं करवाने का आरोप लगाया। 


गांव के सरपंच छंग्गालाल ने भी छात्र-छात्राओं के साथ हो रही वारदातों  को लेकर कहा कि इस बारे में अनेक बार शिक्षा विभाग और पुलिस को सूचित किया जा चुका है, लेकिन अभी तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। वहीं स्कूल की प्रिंसिपल ने दलित समाज के सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया है। 


हंगामे की खबर मिलने के बाद मौके पर पहुंचे हसनपुर खंड शिक्षा अधिकारी ने दलित समाज के लोगों की बात सुनी और उसके बाद आरोपी अध्यापकों सहित तीन कर्मचारियों को स्कूल से तुरंत हटाने और उनकी जगह नए अध्यापक भेजने का आश्वासन मिलने के बाद दलित समाज के लोगों ने स्कूल का ताला खोला।


गौरतलब है कि  दो दिन पहले दबंग गुट के छात्रों ने दलित समाज के दो छात्रों पर हमला किया था। यह वारदात स्कूल के गेट पर हुई। जहां दबंगों ने डंडों से पिटाई करके दो छात्रो को घायल कर दिया था। पीड़ितों का आरोप है कि इस घटना के बाद पुलिस में मुकदमा दर्ज करवाने के लिए सदर थाने पहुंचे थे। ग्रामिणों ने आरोप लगाया कि न तो  पुलिस ने उनकी बात सुनी  और ना ही  मामला दर्ज किया। पुलिस ने ना ही घायल छात्रों की मेडिकल जांच करवाई। इनमें एक घायल 12वीं कक्षा का छात्र है और आरोपी भी उसकी कक्षा में ही पढ़ते हैं।


दलित समाज के लोगों का आरोप है कि उनकी बच्चियों के साथ स्कूल से घर जाते समय छेड़छाड़ होती है। जब बच्चियों ने आपबीती सुनाई तो उसके बाद हमें अपनी बच्चियों की सुरक्षा की चिंता होने लगी है। बच्चियां बताती हैं कि दबंग युवक उनके साथ न केवल स्कूल परिसर में छेड़खानी करते हैं बल्कि घर पहुंचने तक रास्ते में भी उनको तंग करते है। इसकी वजह से पढ़ाई करना और स्कूल  जाना मुश्किल हो गया है। बच्चियों के साथ हो रही ऐसी घटनाओं से तंग आकर ही स्कूल में ताला जड़ा है। 

Post a Comment

0 Comments