Advertisements

रोडवेज बस में बैल्ट से यूवक को पीटने वाली बहनें एक बार फिर चर्चाओं में




Rohtak, 11 Sep, 2018 NewsRoots18
हरियाणा रोडवेज की चलती बस में दो बहनों द्वारा तीन लड़कों के साथ मारपीट मामले में आरोपी तीनों युवकों को बड़ी राहत मिली है मामले में जहां पहले निचली अदालत ने तीनों को बरी कर दिया था वही अब पुनर्विचार याचिका में भी तीनों युवक आरोपमुक्त पाए गए हैं।

28 नवंबर 2014 को हरियाणा रोडवेज की एक बस में दो बहनों द्वारा युवकों के साथ मारपीट का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था वीडियो वीडियो में दोनों बहने रोडवेज की एक बस में तीन युवकों को बेल्ट से पिटाई हुई नजर आई बाद में युवकों पर छेड़छाड़ का आरोप लगाया गया था लड़कियों की शिकायत के बाद लड़कों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया था जिसके बाद लड़कों को जमानत मिल गई और मामला अदालत में पहुंच गया रोहतक ए सीजेएम हरीश गोयल की अदालत ने तीनों आरोपियों कुलदीप मोहित और दीपक को सबूतों के अभाव में आरोप मुक्त कर दिया है।



सोनीपत की रहने वाली आरती और पूजा नाम किए बहने उस समय रोहतक के आई सी कॉलेज में पढ़ती थी और कॉलेज से परीक्षा देकर घर लौटते समय हरियाणा रोडवेज की बस में यह घटना घटी थी।

दोनों बहनों ने युवको पर आरोप लगाया कि तीनों ने उनसे छेड़छाड़ की और जिसके बाद दोनों बहनों ने एक लड़के को बेल्ट से पीटा था वहीं लड़को ने इस बात से इंकार किया था। लड़कों का कहना था विवाद सीट को लेकर हुआ था।



कुछ लोगों ने इस घटना का वीडियो बना लिया था जो कि सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुआ था यह वीडियो सामने आने के बाद आरती और पूजा बहादुर बहनों के नाम से मशहूर हो गई थी जिसके बाद कई संस्थाओं ने उन्हें सम्मानित भी किया यहां तक कि प्रदेश सरकार ने भी दोनों को पांच लाख रुपए  का नकद पुरस्कार देने की घोषणा की थी।

इस पूरे घटनाक्रम, सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो और कई दिन चर्चाओं में रहने के बाद दोनों बहनों के एक लिखकर कई और वीडियो भी सामने आए थे जिसके बाद लड़कों के पक्ष में भी आवाज उठानी शुरू हुई थी और कई चश्मदीद भी लड़कों के पक्ष में आ खड़े हुए थे।

Post a Comment

0 Comments