Advertisements

टेरर फंडिंग से बन रही मस्जिद, सलमान को किया एनआईए ने गिरफ्तार






Palwal, 29 Sep, 2018 NewsRoots18
पलवल के गाँव उटावड़ में आतंवादी फंड से मरकज नामक मस्जिद  बनाई जा रही है  जिसको  लेकर गाँव उटावड़ के रहने वाले सलमान नामक युवक को भारतीय खुपिया एजेंसी ( एन आई ए ) टीम ने गिरफ्तार है ! एन.आई.ए  टीम ने सलमान के साथ - साथ दो अन्य लोगों को भी अरेस्ट किया है उनको टेरर फंडिंग के साथ जुडा होना बताया जा रहा है  ! उक्त आरोपी गाँव उटावड़ में टेरर फंडिंग से बनाई जा रही मरकज मस्जिद में प्रति शुक्रवार को आता रहता था । इस मस्जिद के निर्माण में लगी करोड़ों रुपयों की धनराशि के बारे में एन.आई.ए के अधिकारी लगातार पूछताछ करने में लगे हैं ।  इस बात को लेकर आज बहिन थाना प्रभारी रामदयाल ने पुलिस टीम के साथ  इस मजीद का दौरा किया और लोगों से मजीद में लगाया जा रहा पैसा के बारे में भी जानकारी जुटाई ! उन्होंने बताया की इसेक बारे में भारतीय खुपिया एजेंसी के पास यह मामंला है और वही इसकी पूछताछ कर रही है ! लेकिन गाँव के लोगों का कहना है कि सलमान को झूंठा फंसाया जा रहा है यह मजीद 84 गावों की  मस्जिद  है जो उगाई करके बनाई जा रही है ! सलमान का आतंवादी संगठन से कोई लेना देना नहीं है  ! 



सुनिए सलमान के बारे में स्थानिय लोग क्या कहते है।

आपको बता दें की  एन.आई.ए ने टेरर फंडिंग के मामले में सलमान नामक जिस आरोपी को अरेस्ट किया है उसका मूल निवास स्थान जिला पलवल के मेवाती इलाके का उटावड गाँव है । उक्त आरोपी जिस मरकज मस्जिद उटावड में प्रति शुक्रवार को आता रहता है। बताया जा रहा है की उस मस्जिद के निर्माण में लगी करोड़ों रुपयों की धनराशि के बारे में एन.आई.ए के अधिकारी लगातार पूछताछ करने में लगे हैं । केन्द्रीय व राज्य की खुफियां एजेंसियां यह जानने में लगी है की उक्त स्थल पर कौन-कौन लोग आते रहे हैं, इस बारे में भी ख़ुफ़िया सूत्रों के द्वारा जानकारियां एकत्रित की जा रही हैं । क्योंकि यह मामला देश की सुरक्षा से जुडा है इसीलिए इस मामले में संवेदनशीलता बरती जा रही है । जैसे ही  सलमान की गिरफ्तारी की सूचना उटावड सहित मेवात इलाके में पहुँचीं लोग आश्चर्य में पड़ गए । उनके साथ काम करने वाले लोग कुछ भी कहने को  तैयार नहीं है । वहीँ कुछ लोग उसकी गिरफ्तारी पर नाराजगी भी जाहिर कर रहे हैं ।

एन.आई.ए के सूत्रों के मुताबिक सलमान को दिल्ली स्थित उनके निवास से अरेस्ट किया गया और उसको अपने साथ लेकर गाँव में बनाई जा रही मजीद में लेकर आए और मजीद में लगाई जा रही धन राशि के बारे में जानकारी प्राप्त की है । इस मामले में बताया जा रहा है की अन्य दो लोग भी अरेस्ट किये गए हैं । शुरुआती पूछताछ में पकडे गए आरोपी सलमान से उटावड में बन रही मरकजी मस्जिद को लेकर हुई । बताया जा रहा है की उक्त मस्जिद में विदेश से आया धन खर्च किया गया है यह भी बताया जा रहा है की अरब देशों से उक्त धन हवाला के जरिये आया था । जो की सरकारी के नियमों का भी उल्लन्घन है । एन.आई.ए ने सलमान के साथ जिन दो अन्य लोगों को अरेस्ट किया है उनके टेरर फंडिंग के साथ जुडा होना बताया जा रहा है । एक पाकिस्तानी नागरिक से भी संलिप्तता बताई जा रही है । पूरे मेवात इलाके के जमाते-उलेमा-हिन्द एवं तबलीग जमात से जुड़े मौलाना दिल्ली स्थित सलमान के निवास के लिए गए तथा सलमान को निर्दोष बताया । एन.आई.ए का कोई भी अधिकारी अभी तक मीडिया के सामने नहीं आया है ।




सुनिए स्थानिय पुलिस का क्या कहना है।

जब इस बारे में मजीद में मौलवी और गाँव के लोगों से बात की तो उन्होंने बताया की सलमान ने अपने पिता मौलाना दाउद की याद में उक्त मस्जिद का निर्माण करा रहा है और यह मजीद लोगों से उगाई करके बनाई जा रही है यह 84 गावों की मजीद है इसमें सभी गावों के लोगों ने अपनी हैसियत के अनुसार चंदा दिया है ! लोगों ने यह भी कहा की मजीद और मंदिर चंदे से बनाए जाते हैं इनका अपने आप कोई भी निर्माण नहीं कर सकता है ! गाँव के लोगों ने कहा की जो सलमान को गिरफ्तार किया है और उसके ऊपर आतंकवादी संगठन से जुड़ा हुआ बताया जा रहा है यह गलत है इससे सलमान का कोई लेना देना नहीं है सलमान एक गरीब घर से तालुकात रखता है और यह हर शुक्रवार को गाँव में आता है और जो चंदा लेकर आता है उसको लगाकर जाता है ! लोगों ने कहा की जो उसके ऊपर आरोप लगाए जा रहे हैं यह सरासर गलत हैं !   परन्तु दहशतगर्दी के मामले में उनका कोई भूमिका नहीं है । कश्मीरी टेरर फंडिंग से उनका कोई वास्ता नहीं है । इस बारे में फैलाई जा रही अफवाहें पूरी तरह निराधार हैं । उल्लेखनीय है सलमान मूल रूप से उटावड के निवासी हैं उनके पिता दाउद तबलीगी जमात निजामुद्दीन से पिछले सत्तर वर्षो से जुड़े रहे । उनके साथ ही सलमान भी तबलीगी जमातों में सक्रीय रहे हैं । उटावड स्थित तबलीगी मरकज चलाते रहे हैं । उनके तीन भाई भी दिल्ली रहते हैं । निजामुद्दीन के अलावा जैतपुर दिल्ली में भी उनका निवास है ।


जैसे ही इसकी सूचना जिला पुलिस को लगी तो इसकी जानकारी लेने के लिए बहिन थाना प्रभारी रामदयाल अपनी पुलिस टीम के साथ मजीद में पहुंचे और लोगों से सलमान और बारे में और मजीद के बारे में जानकारी ली ! पुलिस अधिकारी ने कहा की इसकी जाँच देस की सबसे बड़ी एजेंसी कर रही है और उन्होंने ही सलमान को गिरफ्तार किया है वही इसकी जाँच कर रहे हैं ! और जैसे ही उनके पास कोई आदेश आएगें वह भी उसी आधार पर कार्यवाही करेगें ! 





Post a Comment

0 Comments