Advertisements

आरएस चौधरी इनलो पार्टी के बने महासचिव, दुष्यंत चौटाला को दिया अभय ने झटका





Jyoti Bhatiya, Chandigarh, 11 Oct, 2018 NewsRoots18
इनेलो ने आर एस चौधरी को पार्टी महासचिव नियुक्त किया है वहीं दो जिलों के जिलाध्यक्ष बदले गए है।नेता अभय चौटाला ने बताया कि पार्टी में बदलाव किया गया है। पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चौधरी ओमप्रकाश चौटाला ने कुछ बदलाव करते हुए किसान सैल के  पूर्व विधायक निशान सिंह की जगह पूर्व विधायक कली राम को नियुक्त किया है। कर्मचारी सैल में भी पूर्व संयोजक धारा सिंह को अब कर्मचारी सैल का प्रभारी नियुक्त किया है और उनके स्थान पर संयोजक का दायित्व बलवीर सिंह को दिया गया है।
एक नए सैल का गठन करते हुए मेडिकल सैल का संयोजक डा. के सी काजल को नियुक्त किया गया है। हिसार और दादरी जिले की पार्टी ईकाईयों में भी बदलाव लाते हुए हिसार में राजेंद्र लितानी के स्थान पर सतवीर सिसाय को जिला प्रधान नियुक्त किया गया है।
इसी प्रकार दादरी में नरेश द्वारका के स्थान पर अब विजय पंचगांवा को जिला प्रधान नियुक्त किया गया है।
चौधरी ओम प्रकाश चौटाला ने नेशनल बॉडी के पदाधिकारियों में बदलाव किए हैं। वे स्वयं राष्ट्रीय अध्यक्ष बने रहेंगे और अनंत राम तंवर, साधुराम चौधरी, नारायण प्रसाद अग्रवाल, कुमारी फुलवती, अश्वनी दत्ता और रामभगत गुप्ता उपाध्यक्ष घोषित किए गए हैं।
आर एस चौधरी आईएएस सेवानिवृत पार्टी के नए सके्रटरी जनरल होंगे जबकि रमेश गर्ग, ब्रिज शर्मा और कैप्टन इंद्र सिंह पूर्व सांसद, जनरल सक्रे टरी का पदभार संभालेंगे। युद्धवीर आर्य पूर्व सदस्य हरियाणा लोकसेवा आयोग, चत्तरसिंह पूर्व सदस्य लोकसेवा आयोग, बलवंत सिंह मायना पूर्व विधायक, सुरेश मित्तल और अशोक शेरवाल सचिवों का पदभार संभालेंगे। डा. के सी बांगड पूर्व अध्यक्ष लोकसेवा आयोग राष्ट्रीय प्रवक्ता होंगे और दीपचंद गोयल पार्टी के खंजाची बनेंगे।
इनेलो सुप्रीमों ने पार्लियमेंट्री बोर्ड में भी बदलाव किया है। नंदलाल चौधरी के निधन होने के कारण बोर्ड के चेयरमैन ओमप्रकाश चौटाला के अलावा अब चार सदस्य अशोक अरोड़ा, बीडी डालिया, अंजु सिंह और कमल नागपाल होंगे।
इनेलो सुप्रीमों ने पार्लियमेंट्री बोर्ड में भी बदलाव किया है। नंदलाल चौधरी के निधन होने के कारण बोर्ड के चेयरमैन ओमप्रकाश चौटाला के अलावा अब चार सदस्य अशोक अरोड़ा, बीडी डालिया, अंजु सिंह और कमल नागपाल होंगे।
सांसद हरियाणा विधानसभा में नेताविपक्ष और राज्य के पार्टी अध्यक्ष अपने पदों के दायित्व के आधार पर राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य होंगे।

Post a Comment

0 Comments