Advertisements

सिटी ब्यूटीफुल में महात्मी गांधी का अनोखा संग्रहालय, जानिए संग्रहालय में क्या खास है







Chandigarh, 01 Oct, 2018 NewsRoots18
चंडीगढ़ में महात्मा गांधी के न केवल दर्शन होंगे, बल्कि उनकी वाणी भी सुनी जा सकेगी। राष्ट्रपिता की 150वी जयंती के मौके पर सिटी ब्यूटीफुल चण्डीगढ़ गांधी स्मारक भवन में अनोखे संग्रहालय का लोकार्पण होगा। इसमें गांधी जी के पूरे जीवन पर आधारित वस्तुओं, वाणी औऱ चित्रों को संजोया गया है। 

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने कहा था कि 'मेरा जीवन ही मेरा संदेश है, और उनके इस जीवन को जानने के लिए म्यूजियम सबसे ज्यादा कारगर है। इसी मकसद से चंडीगढ़ के गांधी स्मारक भवन में महात्मा गांधी जी के जीवन पर आधारित एक अनोखा म्यूजियम तैयार किया गया है। इस म्यूजियम के प्रवेश द्वार पर दो पुराने टेलीफोन रखे गए हैं, जिनको कान से लगाते ही महात्मा गांधी का ऐतिहासिक भाषण सुनाई देगा। एक टेलीफोन से महात्मा गांधी का हिंदी भाषण सुनेगा तो दूसरे से अंग्रेजी भाषण। यह उन की ओरिजिनल आवाज है। इसको सुनने के बाद जैसे ही संग्रहालय में प्रवेश करेंगे तो महात्मा गांधी चरखा कातते नजर आएंगे। इसके अलावा महात्मा गांधी जी के जीवन से जुड़ी वस्तुओं के रिप्लिका भी म्यूजियम में संजोए गए हैं। इनमें चरखा, घड़ी और चश्मा शामिल हैं।




इसके अलावा मोहनदास करमचंद गांधी के बचपन से लेकर राष्ट्रपिता महात्मा गांधी हो जाने तक के सफर के तमाम चित्र में दर्शाए गए हैं। विश्व की महान हस्तियों ने महात्मा गांधी के विषय में जो वक्तव्य दिए हैं, उनमें से चुनिंदा वक्तव्यों को भी म्यूजियम में शुमार किया गया है। इसके अलावा दुनिया के अनेक देशों ने महात्मा गांधी पर डाक टिकट जारी किए हैं। उन सभी डाक टिकटों को विश्व के मानचित्र पर यह दर्शाया गया है। साथ ही महात्मा गांधी की शिक्षाओं से लेकर उनके जीवन की जुड़ी तमाम विशेषताएं इस म्यूजियम में देखने को मिलेंगी। उनकी जयंती के 150 वर्ष शुरू होने पर 2 अक्टूबर को चंडीगढ़ के प्रशासक और पंजाब के राज्यपाल वीपी सिंह बदनोर इस संग्रहालय का लोकार्पण करेंगे।





महात्मा गांधी के संदेशों को पोस्टर और नारों के जरिए भी एक प्रदर्शनी में शुमार किया गया है यहां आने वाले लोग पोस्टर और नारों के जरिए महात्मा गांधी की शिक्षाओं को जान सकेंगे।चंडीगढ़ आने वाले लोगों को महात्मा गांधी के प्रति तमाम जिज्ञासा शांत करने के लिए यह संग्रहालय खासा मददगार साबित होगा।

Post a Comment

0 Comments