Advertisements

मुख्यमंत्री ने दिए सांपला, कुंडली और फरीदाबाद-गुरुग्राम के बीच मैट्रो कनैक्टिविटी के कार्य में तेजी के निर्देश





Chandigarh,27May,2019 NewsRoots18
हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र विशेषकर गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, झज्जर व रोहतक जिलों में यातायात की सुगमता तथा जनता को सार्वजनिक परिवहन प्रणाली उपलब्ध करवाने के लिए मैट्रो कनैक्टिविटी के विस्तार की सरकार की प्रतिबद्धता को मूर्त रूप देने के लिए तत्परता से कार्य करें। 

 हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सोमवार को चण्डीगढ में  हरियाणा राज्य में दिल्ली मैट्रो रेल परियोजनाओं की समीक्षा बैठक की अध्यक्षता की। उन्होंने कहा कि राज्य में पडऩे वाली सभी मैट्रो रेल परियोजनाओं का नियंत्रण हरियाणा मैट्रो रेल परिवहन निगम के अधीन लाया जाए ताकि हमें दिल्ली मैट्रो रेल निगम व आरआईटीईएस जैसी संस्थानों पर निर्भर न रहना पड़े।

 बैठक में मुख्यमंत्री ने जिन नई मैट्रो रेल परियोजनाओं की समीक्षा की है उनमें नरेला से कुण्डली मैट्रो कॉरिडोर जिसकी लम्बाई 4.86 किलोमीटर होगी, जिसे राजीव गांधी एजुकेशन सिटी तक विस्तारित किया जाएगा, गुरुग्राम और फरीदाबाद के बीच लगभग 30.38 किलोमीटर लम्बाई का मैट्रो कॉरिडोर, सिटी पार्क (बहादुरगढ़) से सांपला 17.10 किलोमीटर लम्बाई का मैट्रो कॉरिडोर, 23.10 किलोमीटर लम्बाई का मैट्रो कॉरिडोर जोकि बाढ़सा (एम्स और राष्ट्रीय कैंसर संस्थान) और द्वारका (वाया एनपीआर) के बीच होगा। 

इसी प्रकार, एसपीआर तथा सैक्टर 56 तथा वाटिका चौक, गुरुग्राम के बीच 6.30 किलोमीटर लम्बाई का मैट्रो कॉरिडोर शामिल हैं। बैठक में इस बात की जानकारी दी गई कि वर्तमान में हरियाणा में 40 किलोमीटर लम्बाई का देश का सबसे अधिक मैट्रो रेल नेटवर्क उपलब्ध है, जिसे भविष्य में दिल्ली मैट्रो रेल निगम के चौथे चरण में 75 से 80 किलोमीटर तक विस्तारित करने का प्रस्ताव है। मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को इस बात की संभावनाएं तलाशने के भी निर्देश दिए कि वे हरियाणा मैट्रो रेल परिवहन निगम के माध्यम से ट्राईसिटी चंडीगढ़ में भी मैट्रो रेल परियोजना के प्रस्ताव पर कार्य करे।

Post a Comment

0 Comments