Advertisements

इनेलो और जेजेपी को भाजपा ने दिया एक और बड़ा झटका





Chandigarh,25June,2019 NewsRoots18


हरियाणा की राजनीति में दिन - प्रति दिन भारतीय जनता पार्टी का ग्राफ चुनाव से पहले ही बढता जा रहा है। लोकसभा चुनाव के बाद से इनेलो की गिरती लोकप्रियता के बाद पार्टी में भगदड़ मची हुई है। वहीं आज इनेलो के दो और मौजूदा विधायकों के साथ जेजेपी रोहतक जिला अध्यक्ष ने भी चंडीगढ में भाजपा का दामन थाम लिया है। जुलाना से विधायक प्रमेन्द्र ढुल, नूंह से विधायक जाकिर हुसैन और रोहतक से जेजेपी के जिला अध्यक्ष जिले के 71 पदाधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री मनोहर लाल और भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला की मौजूदगी में बीजेपी में शामिल हुए। भाजपा में शामिल होने से पहले दोनो विधायको ने विधानसभा की सदस्यता से स्पीकर कंवर पाल को अपना इस्तिफा भी भेज दिया था। ज्वाइनिंग से पहले उनका इस्तिफा मंजूर कर लिया गया है।

इससे पहले भी इनेलो के कई विधायक पार्टी छोड़ चुके है। जिन्हमें से कुछ परीवार के दो फाड़ के साथ जेजेपी में जा चुके है जबकि नलवा से विधायक रणबीर गंगवा, फतेहाबाद से बलवान सिंह दौलतपुरिया, हथीन से केहर सिंह रावत भाजपा में शामिल हो चुके है। एनआईटी फरिदाबाद से इनेलो विधायक नागेन्द्र भडाना शुरुआत से ही भाजपा का समर्थन करते रहे है। वहीं फिरोजपुर झिरका से इनेलो के विधायक नसीब अहमद पहले ही कांग्रेस में आस्था जता चुके है।

 इस दौरान मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि दो वर्तमान विधायक, पूर्व जिला परिषद चेयरमैन समेत वरिष्ठ लोग भाजपा में शामिल हो रहे हैं। सभी को कार्यकर्ता के नाते भरपूर मान-सम्मान दिया जाएगा। पूरे प्रदेश में इन नेताओं के शामिल होने से भाजपा को मजबूती मिलेगी।भाजपा परिवार निरन्तर बढ़ रहा है, इनेलो के दोनों विधायक, जेजेपी रोहतक जिलाध्यक्ष धर्मपाल मकड़ौली एवं उनके कार्यकर्ताओं का स्वागत है। उन्होंने कहा कि 2014 के बाद केंद्र, प्रदेश में भाजपा की सरकार बनी, लगातार एक के बाद एक बड़ी सफलताएं भाजपा ने हासिल की है।

 गुरुग्राम, फरीदाबाद निगम, 5 निगम चुनाव, जींद उपचुनाव और 10 की 10 लोकसभा सीटें बड़े अंतर से जीती। देश मे 6 लाख से अधिक मत के अंतर से जीतने वाली 4 सीटों में हरियाणा की 2 लोकसभा सीटें है। केंद्र, प्रदेश सरकार की उपलब्धियां, पार्टी की कार्य प्रणाली का प्रभाव देखने को मिला है। वर्तमान विधानसभा के 5 विधायक भाजपा में शामिल हुए है। भाजपा ने विधानसभा चुनाव के लिए 75 प्लस का लक्ष्य रखा है। पार्टी में आने के लिए बहुत से नेता तैयार है।
 

Post a Comment

0 Comments