Advertisements

हुड्डा ने बताया भाजपा की हार का कारण,धान खरीद और माइनिंग में हुआ घोटाला-हुड्डा

                 फाइल फोटो


Chandigarh
हरियाणा के नेता प्रतिपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने प्रदेश सरकार पर हमला बोला है। चंडीगढ़ में प्रेसकांफ्रेन्स करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि बीजेपी जनहित के काम करने की बजाय अपनी हार पर मंथन कर रही है। जबकि उनकी हार का एकमात्र कारण 2014 में किए गए वादों को पूरा नहीं करना था। यदि बीजेपी ने अब भी अपना रवैया नहीं बदला तो उसके हालात वर्ष 2014 से पहले जैसे हो जाएंगे।


हुड्डा ने कहा कि प्रदेश में बीजेपी जेजेपी गठबंधन की सरकार बनी एक महीना पूरा हो गया लेकिन अब तक कॉमन मिनिमम प्रोग्राम जनता के बीच नहीं ला पाए हैं।


हरियाणा में हुए कथित धान घोटाले पर भी बोलते हुए पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि एक तरफ तो मुख्यमंत्री मनोहर लाल खुद धान घोटाला मानते हुए इसकी जांच के आदेश देते हैं। वहीं कृषि मंत्री जांच पूरी होने से पहले ही क्लीन चिट देते हुए घोटाले को नकार रहे हैं यदि सरकार इस मामले में सही मायने में किसानों के साथ इंसाफ करना चाहती है तो इसकी सीबीआई से जांच करवाए।


मंगलवार को विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान माइनिंग पर पेश की सीएजी की रिपोर्ट को लेकर भी हुड्डा ने सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि सरकार की  और माइनिंग माफिया मिलीभगत के कारण प्रदेश में माइनिंग का घोटाला हुआ है। जिसे सीएजी ने भी माना है। अवैध माइनिंग से हालात ये  कि यमुना का बहाव तक बदल गया है। सरकार को इसकी भी जांच सीबीआई से करवा चाहिए। इस पूरे मामले में करीबन डेढ़ हजार करोड़ का घपला हुआ है। सरकार को बताना चाहिए कि वह पैसा किसकी जेब में गया।



सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद किसानों को दिए जा रहे हैं ₹100 प्रति क्विंटल बोनस दिया जा रहा है। इसपर भी नेता विपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि सरकार परमल किस्म के धान खरीद पर किसानों को बोनोस दे रही है।  जबकि कुल धान का 25 फ़ीसदी ही परमल धान पैदा होता है।

भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि किसानों को अब तक ना तो प्रधानमंत्री सम्मान योजना और ना ही मुख्यमंत्री सम्मान योजना की दूसरी किस्त का भुगतान किया गया। सरकार जल्द से जल्द दोनों किस्तें किसानों को जारी।


विधानसभा में विशाल हरियाणा के देवयान पर पूर्व मुख्यमंत्री ने एक बार फिर स्पष्टीकरण दिया  उन्होंने कहा कि उनके इस बयान से चंडीगढ़ पर हरियाणा का दावा कमजोर नहीं होगा। शाह आयोग ने चंडीगढ़ पर हरियाणा के दावे को भी स्वीकार किया था। विशाल हरियाणा की अवधारणा बहुत पुरानी है और विशाल हरियाणा में राजस्थान का भरतपुर और अलवर का इलाका भी शामिल होता है।



नेता विपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कुंडली पलवल मानेसर एक्सप्रेस हाईवे की खस्ता हालत पर भी चिंता जताई। उन्होंने कहा कि इस हाइवे को शुरू हुए 1 साल के का समय हुआ है। लेकिन अभी तक इस पर 300 एक्सीडेंट और 100 मौतें हो चुकी हैं। सरकार को इस ओर भी ध्यान देना चाहिए।


हरियाणा में विधानसभा चुनाव पर बोलते हुए नेता विपक्ष भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा कि पार्टी हाईकमान ने संगठन बदलाव में देरी कर दी, दूसरा टिकट वितरण में भी कुछ गड़बड़ी हो गई । जिस कारण कांग्रेस सत्ता से बाहर हो गई।


बीजेपी - जेजेपी गठबंधन को शुभकामनाएं देते हुए उन्होंने कहा कि इतिहास अपने आप को दोहराता रहता है। गठबंधन सरकार के कार्यकाल के बारे में पूर्व मुख्यमंत्री ने कोई जवाब भी नहीं दिया। लेकिन कहा कि जैसा होगा देखा जाएगा।

Post a Comment

0 Comments